बड़ी खबर : आलू की बोरियों के बीच ले जा रहे थे गाँजा, एक करोड़ के माल बरामद

0
74

महासमुंद। महासमुंद पुलिस ने गांजे की एक बड़ी खेप पकड़ी है। उड़ीसा से आने वाले इस माल की कीमत लगभग 1 करोड़ बताई जा रही है। मिली जानकारी के मुताबिक उड़ीसा से लगातार गांजा परिवहन की खबर महासमुंद पुलिस को मिल रही थी।

भैयाजी ये भी देखे : सूबे में 100 फीसदी खुलेंगे स्कूल आदेश ज़ारी…ज़ारी रहेगा कोविड…

इसी बीच उड़ीसा से आने वाले एक छोटा हाथी में गांजे की बड़ी खेप आने की सूचना महासमुंद पुलिस को मिली। जिसके आधार पुलिस की टीम ने चेक पोस्ट लगाकर गाड़ियों की जांच पड़ताल शुरू की थी। इसी दौरान पदमपुर उड़ीसा से बसना महासमुंद की तरफ एक सफेद रंग की छोटा हाथी गाड़ी जिसका नंबर CG 10 AX 8958 है।

पलसापाली बैरियर के सामने इस गाड़ी को रोका गया, पूछताछ करने पर गाड़ी चला रहे व्यक्ति ने अपना नाम राधेश्याम और साथ बैठे व्यक्ति ने शिवकुमार बताया। यह दोनों गौरेला पेंड्रा मरवाही जिला के रहने वाले हैं। इनसे जब पुलिस ने सवाल किया कि गाड़ी में क्या लोड है इस पर उन्होंने आलू लाना बताया।

इसके अलावा पूछताछ में दोनों के जवाब में अलग होने के बाद पुलिस ने गाड़ी की जांच पड़ताल की। जिसमें आलू की बोरियों के नीचे ट्रॉली में 18 प्लास्टिक बोरियों में बड़ी मात्रा में गांजा बरामद हुआ है ।

एक करोड़ का है 5 क्विंटल गांजा

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक इस गाड़ी से 5 क्विंटल 40 किलो गांजा बरामद किया गया है । जिसके बाद दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर, एनटीपीसी के तहत कार्रवाई की गई है।

भैयाजी ये भी देखे : बड़ी ख़बर : नगर पंचायत निर्वाचन की सूचना का हुआ प्रकाशन,…

आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि उड़ीसा से गांजा लाकर वह बिलासपुर और गौरेला पेंड्रा मरवाही में सप्लाई करने जा रहे थे। इस गांजे की कुल कीमत एक करोड़ 80 हज़ार रुपए आंकी गई है ।